Author Archives: Ashish kavita

About Ashish kavita

प्रकाशित पुस्तक - मेरी कविता मेरे भाव https://www.amazon.in/dp/B07V7BSHL9?ref=myi_title_dp I am Ashish Mishra living in London from 10 years. Earned education from Delhi. At present working in Computer Software arena. Since childhood I am attached to Hindi poetry. I love hindi poem. My favourite poets are Ramdhari Singh Dinkar, Harivansh Rai Bachan, Maithili Sharan Gupt … Email address: ashish24mishra@gmail.com https://www.facebook.com/profile.php?id=100000578775200 Edit

दिल्ली दंगे – देखो कैसे आँखों का पानी

देखो कैसे आँखों का पानी चौराहे पर सूख गया कुछ पत्थर बनकर निकला कुछ ख़ुद में बंदूक़ हुआ घर का दीपक कहीं बुझा, माँ बिलखती आँगन में सिसकी रोते-रोते चुप है, सहमी विधवा दामन में तू कैसे कलमा आज पढ़ेगा, … Continue reading

Posted in जीवन | Tagged , , , | 2 Comments

विश्व हिंदी दिवस की शुभकामनाएँ

Posted in जीवन | Tagged , , | Leave a comment

मेरी पुस्तक का विमोचन

🌸🌺मेरी पुस्तक #मेरी_कविता_मेरे_भाव का #विमोचन Indian High Commission, London द्वारा भारत से बुलाए गए उच्च कोटि के कवि Rajesh Reddy, Sudeep Bhola, Arjun Sisodiya जी, Ashok Charan जी, keerti Mathur जी, Shabnam Ali, Sonroopa Vishal जी के कर कमलों से … Continue reading

Posted in जीवन | Tagged , , , , , , | 4 Comments

पितृदेव, श्राद्ध

बारह मास में एक पक्ष अब ऐसा आया है पितृदेव को तर्पण का फ़िर अवसर आया है जिनका हमें आशीष मिला बीते पूरे साल वे स्वयं यहाँ पधारे हैं करने को ख़ुशहाल हे अम्मा-बाबा नानी-नाना पुनः तुम्हें सादर नमन जो … Continue reading

Posted in जीवन | Tagged , , , , , , , , | 4 Comments

हिंदी दिवस की शुभकामनाएँ

हिंदी मेरी भाषा और हिंदी मेरी हर बात में जैसे चंदा एक अकेला तारों की बारात में हिंदी में मैं स्वप्न देखता, हिंदी में करता विचार हिंदी मेरे मन का दर्पण, हिंदी ही इसका आधार भारत की सारी भाषाएँ, हैं … Continue reading

Posted in जीवन | Tagged , , , , , , | Leave a comment

🙏🌺🌸🙏 #शिक्षकदिवस की शुभकामनाएँ, सभी शिक्षकों को प्रणाम 🙏

शिक्षक कई रूप में मिलते हैं, शिक्षक कई प्रारूप में मिलते हैं। उनके पढ़ाने से हम शून्य से मूल्य में परिवर्तित होते हैं। वे अपनी अमुल्य शिक्षा हममें गढ़ते हैं…यूँ ही नहीं हम उन्हें पूज्य कहते हैं। मात-पिता प्रारम्भिक शिक्षक … Continue reading

Posted in जीवन | Tagged , , , , , | 2 Comments

मेरा भारत मेरा कश्मीर

e0a4b9e0a4aee0a4bee0a4b0e0a4be-e0a495e0a4b6e0a58de0a4aee0a580e0a4b0-e0a4b9e0a4aee0a4bee0a4b0e0a4be-e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4-.m4a

Posted in जीवन | Tagged , , , , | Leave a comment

पुस्तक प्रकाशित – मेरी कविता मेरे भाव

via पुस्तक प्रकाशित – मेरी कविता मेरे भाव

Posted in जीवन | Leave a comment

पुस्तक प्रकाशित – मेरी कविता मेरे भाव

https://www.amazon.in/dp/B07V7BSHL9?ref=myi_title_dp Hardcover– https://www.amazon.in/dp/B07V8G7PT9?ref=myi_title_dp पहली इक्यावन प्रतीयों के पैसे एक NGO ‘उत्साह’ को समर्पित है। कृपया इस लिंक से पढ़ें, पढ़ाएँ और बताएँ अपने अन्य मित्रों को।

Posted in जीवन | Tagged , , , , , | 1 Comment